ग्रामोदय में आपका स्वागत है ...


ग्रामोदय से भारत उदय


महात्‍मा गांधी ने ग्राम स्‍वराज की जो भावना हमें दी, ये सब अभी भी पूरा होना बाकी है। आजादी के इतने सालों के बाद जिस प्रकार से हमारे गांव के जीवन में परिवर्तन आना चाहिए था, जो बदलाव आना चाहिए था। बदले हुए युग के साथ ग्रामीण जीवन को भी आगे ले जाने का आवश्‍यक था। लेकिन ये दुख की बात है अभी भी बहुत कुछ करना बाकि है। भारत का आर्थिक विकास 5-50 बढ़े शहरों से होने वाला नहीं है। भारत का विकास 5-50 बढ़े उद्योगकारों से नहीं होने वाला। भारत का विकास अगर हमें सच्‍चे अर्थ में करना है तो गांव की नींव को मजबूत करना होगा। तब जा करके उस पर विकास की इमारत हम स्थायी बना सकते है।

ग्राम उदय से भारत उदय एक नया अभियान है जो की भारत सरकार द्वारा चलाया जा रहा है. अभियान का शुभारंभ 14 अप्रैल को मध्य प्रदेश से किया गया. अभियान के अंतर्गत कई राष्‍ट्रीय और पंचायती कार्यक्रम किए गए.



प्रो. वीरेंद्र सिंह चौहान के बारे में

ग्रामोदय अभियान के संयोजक प्रो. वीरेंद्र चौहान हरियाणा के सामाजिक एवं राजनैतिक क्षेत्र में एक परिचित चेहरा हैं। सम्प्रति हरियाणा ग्रंथ अकादमी में बतौर उपाध्यक्ष कार्यरत प्रो. चौहान मूल रूप से करनाल जिले के गोंदर ग्राम के निवासी हैं। अपनी प्रारंभिक शिक्षा कुरूक्षेत्र के गीता निकेतन आवासीय विद्यालय से पूरी करने के बाद पत्रकारिता को अध्ययन के तौर पर चुना।

कुरूक्षेत्र विश्वविद्यालय से पत्रकारिता की स्नातक और गुरू जम्बेश्वर विश्वविद्यालय, हिसार से स्नातकोत्तर डिग्री प्राप्त की। बाल्यकाल से राष्‍ट्रीय स्वयंसेवक संघ के स्वयंसेवक प्रो. चौहान ने कुरूक्षेत्र विश्वविद्यालय के विद्यार्थी के रूप में आकाशवाणी के कुरूक्षेत्र केंद्र के ‘युवाओं के लिए’ व ‘सन्निहित तीरे’ कार्यक्रमों के ज़रिये मीडिया जगत में पदार्पण किया। उसके बाद दैनिक दिव्य हिमाचल में उप-संपादक, अमर उजाला में ब्यूरो चीफ, दैनिक ट्रिब्यून रोहतक में स्टाफ रिर्पोटर के रूप में कार्य किया।

एक दशक से अधिक मुख्यधारा के मीडियाकर्मी के नाते कार्य करने के बाद मीडिया शिक्षण से जुड़े और वर्ष 2007 में चौधरी देवीलाल विश्वविद्यालय में शिक्षण कार्य आरम्भ किया। इसी कड़ी में उन्होंने सामुदायिक रेडियो क्षेत्र में पहल करते हुए हरियाणा के किसी भी सरकारी विश्वविद्यालय के पहले सामुदायिक रेडियो स्टेशन ‘रेडियो सिरसा’ की संकल्पना से स्थापना तक का कार्य किया और निदेशक का पदभार संभाला। प्रो. चौहान कम्युनिटी रेडियो एसोसिएशन ऑफ इंडिया के राष्‍ट्रीय सेक्रेटरी जनरल और हरियाणा भाजपा के प्रदेश सह-मीडिया प्रभारी भी रहे।

सामाजिक संस्था मानव सेवा चैरिटेबल सोसायटी के अध्यक्ष के रूप में करनाल के गोंदर गांव में प्रदेश का पहला ग्राम्य सामुदायिक रेडियो स्टेशन ‘रेडियो ग्रामोदय’ स्थापित करने की दिशा में काम कर रहे हैं। ग्रामीण विकास के क्षेत्र में कार्य करते हुए स्वामी विवेकानंद के 150 वें जयन्ती वर्ष में अन्य समाजसेवी मित्रों के साथ ‘ग्रामोदय अभियान’ का श्री गणेश किया।


ग्रामोदय वेब कांफ्रेंस

For Public



प्रो. वीरेंद्र सिंह चौहान अभी उपलब्ध नहीं हैं, कृपया कुछ देर बाद कोशिश करे .




For Prof. Virender Singh Chauhan







संपर्क सूत्र